यूपी पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2023 की लिस्ट कैसे देखें (UP New List)

pm kisan samman nidhi yojana up list chcek your name

PM Kisan Samman Nidhi Yojana UP List 2023 | PM Kisan Yojana Beneficiary Status

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चलाई जा रही योजना PM किसान सम्मान निधि योजना किसानो के हित के लिए सरकार का एक बहुत महत्वपूर्ण कदम है।

यह योजना वर्ष 2019 में जारी की गई जिसने तुरंत बाद आई COVID-19  महामारी में किसानों का बहुत साथ दिया है।

PM Kisan Yojana के अंतर्गत लाभार्थियों को प्रतिवर्ष ₹6000 की राशि चार-चार महीनों की तीन किस्तों में दी जाती है।

यानी हर 4 महीने बाद ( जो की फसल की बुवाई तथा कटाई का समय होता है) इस योजना के तहत ₹2000 की आर्थिक सहायता प्रति एक रजिस्टर्ड किसान को सरकार द्वारा की जाती है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ ना केवल छोटे और प्रवासी किसानों को होगा बल्कि इसमें हुए नए संशोधन के बाद अब हर प्रकार का किसान इस योजना से लाभान्वित हो सकता है जिसके लिए उनकी कृषि भूमि के अनुसार उनको योजना का लाभ मिलेगा।

यूपी पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2023 की लिस्ट

हाल ही में PM Kisan ऑफिसियल वेबसाइट पर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 11वीं  किस्त की सूची अपलोड की गई थी। गौरतलब है कि 12वीं सूची साल 2022 के अंत तक या नवंबर महीने के आखिरी के दिनों तक अपलोड कर दी जाए.

उत्तर प्रदेश जनसंख्या के आधार पर भारत का सबसे बड़ा राज्य है। यहां का लगभग 70 से 75% व्यवसाय कृषि से जुड़ा हुआ है। ऐसे में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के कृषकों को पहुंचना अनिवार्य है।

PM Kisan Yojana UP के अंतर्गत कुल 2,82,95,222 किसानो को लाभ पहुँचाया जा रहा है। योजना का सक्सेस रेट 92 प्रतिशत है।

यहाँ निचे हमने PM Samman Nidhi Yojana Beneficiary List की जानकारी प्रदान की है।

PM Kisan Yojana UP Kist List 2023

PM Kisan Yojana UP Kist List चरण [वर्ष]लाभार्थी किसानो की संख्या (2.83 करोड़ में से)Success Rate
पहली क़िस्त 3 चरण [2018]1.12 करोड़ 40%
दूसरा क़िस्तचरण 1 [2019]1.60 करोड़57%
तीसरा क़िस्त चरण 2 [2019]1.86 करोड़60%
चौथा क़िस्तचरण 3
[2019-20]
2.03 करोड़72%
पांचवी क़िस्तचरण 1
[2020]
2.53 करोड़89%
छठि क़िस्तचरण 2
[2020]
2.31 करोड़82%
सातवीं क़िस्तचरण 3
[2020-21]
2.38 करोड़84%
आठवीं क़िस्तचरण 1
[2021]
2.76 करोड़97%
नवी क़िस्तचरण 2
[2021]
2.53 करोड़89%
दसवीं क़िस्त चरण 3
[2021-22]
2.60 करोड़92%
ग्यारहवीं क़िस्तचरण 1 [2022]अभी जारी नहीं है।
बारहवीं क़िस्तचरण 2 [2022]अभी जारी नहीं है।
कुल 2.83 करोड़ प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी

अर्ताथ प्रत्येक योजना के प्रत्येक वर्ष में 2.83 करोड़ किसानो में 92% को रु6000 प्रदान किया जाता है। बचे 8% किसानो को लाभ PM Kisan KYC Complete न करा पाने के कारण नहीं मिलता है (यह क़िस्त पेंडिंग में रह जाती है)।

इसलिए यदि आप अपना किसान सम्मान निधि योजना का लाभ सुचारु रूप से प्राप्त करना चाहते है, तो आप अपना KYC समय पर करा लें।

PM Kisan KYC की जानकारी के लिए आप हमारे इस लेख को पढ़ें:

ऐसे कृषक जो उत्तर प्रदेश में रहते हैं तथा उन्होंने पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट पर अपना रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन करा रखा है, बेनिफिशियरी लिस्ट में अपना नाम ढूंढ सकते हैं।

ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अपना नाम ढूंढने की प्रक्रिया काफी आसान है जिसके बारे में हम आपको आगे विस्तार से बताएंगे।

उत्तर प्रदेश पीएम किसान सम्मान निधि योजना 2023 की लिस्ट कैसे देखें?

Pmkisan.gov.in पर भारत में रजिस्टर्ड सभी किसानों की सूची आसानी से देखी जा सकती है। उत्तर प्रदेश के कृषक जो अपना नाम बेनिफिशियरी लिस्ट में देखना चाहे वह PM kisan Samman Nidhi List UP मैं अपना नाम भूल सकते हैं।

नाम ढूंढने के लिए केवल जिला,  डिस्टिक,  सब सबडिस्टिक तथा गांव का नाम पता होना जरूरी है।

इस प्रक्रिया को अपनाकर आप आसानी से यूपी के किसानों की लिस्ट beneficiary List में ढूंढ सकते हैं:

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आप इस लिंक पर क्लिक करके डायरेक्ट विजिट कर सकते हैं. https://pmkisan.gov.in 
  • इसके पश्चात आप ऑफिशियल वेबसाइट के होमपेज पर पहुंच जाएंगे।
  • अब निचे स्क्रॉल कर Farmer Section में पहुंचेंगे।
  • इसके पश्चात आपको राज्य के अंदर उत्तर प्रदेश का चयन करना है.
  • उत्तर प्रदेश का चयन करने के बाद अपने निम्न चुने.
    • डिस्ट्रिक्ट
    • सब डिस्टिक चुने
    • ब्लॉक नेम चुने
    • अंत में अपने गांव का नाम  सेलेक्ट करें
  •  इसके बाद आप Get Report पर क्लिक करें

उसके बाद आपकी स्क्रीन पर  आपके गांव से संबंधित सभी लाभ धारकों की सूची आ जाएगी.  जिन व्यक्तियों का नाम सूची में है उन्हें इस योजना के तहत  अगली 12  किस्त के अंदर भी लाभ मिलेगा.

यूपी के किसान Beneficiary Status चेक करें

उत्तर प्रदेश के किसान अपना नाम बेनिफिशियरी स्टेटस के अंदर भी देख सकते है।

जिन किसानों का नाम इस स्टेटस के अंदर show होगा उन्हें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अंतर्गत लाभ अवश्य मिलेगा। स्टेटस को चेक करने के लिए आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं. 

  •  आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आप  वेबसाइट के नीचे की ओर आए.
  •  यहां आपको बेनिफिशियरी स्टेटस (Beneficiary Status)  का लिंक दिख जाएगा.  इस लिंक पर क्लिक करें
  •  इसके पश्चात आपको अपना मोबाइल नंबर या रजिस्ट्रेशन नंबर.  इन दोनों में से कोई एक वेबसाइट पर लिखना है
  • अब स्क्रीन पर सो रहे अंको को लिखें
  •  इसके बाद Get Data के लिंक पर क्लिक करें. 
  •  यदि आपका नाम प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि उत्तर प्रदेश लिस्ट के अंदर  है.  तब आपका नाम भी इस लिस्ट में जो होगा.  अर्थात आपको भी अगली किस्त मिलने पर लाभ मिलेगा.

Self Registration का स्टेटस चेक करें

यदि आपने पीएम किसान सम्मान निधि उत्तर प्रदेश योजना के अंतर्गत आवेदन ऑनलाइन  किया है.  या किसी ग्राहक सेवा केंद्र के माध्यम से आवेदन किया है।

ऐसी स्थिति में आप अपने आधार कार्ड का प्रयोग करके अपने आवेदन की स्थिति का पता कर सकते हैं।

आवेदन की स्थिति जानने के लिए सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा इसके पश्चात Status of Self Registered Farmer/Through CSC के लिंक पर क्लिक करें।

यहां आपको अपना आधार कार्ड का नंबर लिखना है.  इसके बाद स्क्रीन पर दिखाए गए कोड को लिखें और सर्च के बटन पर क्लिक कर दें।

इस प्रकार आपके द्वारा स्वयं रजिस्ट्रेशन किए गए आवेदन की स्थिति का ऑनलाइन डाटा सामने आ जाएगा।

PM Kisan Samman Nidhi List UP के लाभ क्या है

वर्ष 2021 तक लगभग दो करोड़ 82 लाख से अधिक किसान केवल उत्तर प्रदेश ही से रजिस्टर्ड हो चुके हैं जिनको लाभ दिया जा चुका है।

टोटल रजिस्टर्ड किसानों में से लगभग 93% से अधिक किसानों को उनके खाते में आर्थिक सहायता के तौर पर 11वीं की किस्त तक की राशि पहुंचा दी जा चुकी है।

इस योजना के अंतर्गत रजिस्टर्ड हुए किसानों को निम्नलिखित  लाभ दिए जाएंगे:

1 साल में तीन बार फसल बोई तथा काटी जाती है. इस योजना के द्वारा प्रत्येक फसल की  बुवाई के समय किसानों को ₹2000 की आर्थिक सहायता दी जाती है।

इस प्रकार  ₹2000 की आर्थिक सहायता 1 साल में तीन बार किसानों को मिलती है.  हम यह कह सकते हैं कि इस योजना के अंतर्गत रजिस्टर्ड किसानों को साल में ₹6000 का आर्थिक लाभ सरकार द्वारा प्रदान किया  जाएगा।

इस आर्थिक सहायता ऐसे किसानों को दी जाएगी  जिन्हें उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वेरीफाई कर दिया गया हो।

यदि पिछले 4 महीने में आपको आर्थिक लाभ नहीं मिला लेकिन आपका नाम बेनेफिशरी  लिस्ट में है,  ऐसी स्थिति में आपको अगली किस्त के दौरान पिछली किस्त के पैसे भी मिल जाएंगे।

13वीं  किस्त की सूचना पाएं सबसे पहले pmkisan App पर

आपको बार-बार ऑनलाइन वेबसाइट चेक करने की आवश्यकता नहीं है। उत्तर प्रदेश के किसान तथा अन्य राज्यों के किसान अपने मोबाइल फोन ही में पीएम किसान क मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड कर सकते हैं।

इस मोबाइल एप्लीकेशन को डाउनलोड करने के बाद आपके मोबाइल में इस योजना के तहत जारी की गई सभी सूचनाएं सबसे पहले पहुंच  जाएंगी।

 डाउनलोड करने के लिए इस प्रक्रिया को दोहराएं.

  •  Play Store या App Store पर जाएं
  •  इसके बाद सर्च  बार में PMKISAN सर्च करें

  •  आपको गूगल पर PMKISAN GOI  के नाम से एप्लीकेशन मिल जाएगा।
  •  इसको डाउनलोड कर ले।
  •  अपनी आईडी तथा आधार कार्ड का इस्तेमाल करके लॉगिन करें।
  •  इसके बाद इस योजना से संबंधित सारी जानकारी आपके मोबाइल पर सीधा सरकार द्वारा समय-समय पर भेजी जाती रहेंगी।

FAQs यूपी पीएम किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट

प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के 12वीं किस्त कब आएगी?

PM kisan samman yojana द्वारा प्रत्येक 4 महीने के अंतराल में एक किस्त जारी की जाती है।
नवंबर महीने के अंत तक 12वीं किस्त के आ जाने की उम्मीद है।
किसान अपना नाम बेनिफिशियरी लिस्ट में चेक कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान  निधि उत्तर प्रदेश की लिस्ट कहां देखें?

किसान अपने नाम की सूची अधिकारी वेबसाइट पर देख सकते हैं। इसके लिए उनको अपने जिले,  ब्लॉक,  तथा गांव का चयन करना होगा।
इसके पश्चात उनके गांव में जितने भी किसानों का चयन बेनिफिशियरी लिस्ट के लिए किया गया है उनका नाम आपके सामने दिखा दिया जाएगा।

Pmkisan सम्मान योजना का लाभ किन किसानों को मिलेगा?

योजना के आरंभ में इस निधि का लाभ केवल छोटे तथा प्रवासी किसानों को ही मिलता था, लेकिन नए संशोधन के पश्चात अब सभी किसान इस योजना के तहत लाभ पाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।
किसानों के पास मौजूद खेती के लिए जमीन के आधार पर ही उनका चयन बेनिफिशियरी लिस्ट के लिए किया जाएगा।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*